Mohabbat

"Mohabbat bhi Zindagi ki tarah hoti hai
Har mod asaan nehi hota, har mod pe khushiya nehi milti.
Jab hum zindagi ka saath nehi chhodte toh
Mohabbat ka saath kyun chhode??
---Mohabbatein

2019-01-25

Caption And Content does not match

Top post on IndiBlogger, the biggest community of Indian Bloggers

पिछले कुछ दिनो से इस घट्ना के बारे मे जब भी सोच राहा हु तोह इतनी हंसी आ रही है...इतनी हंसी आ रही है के किया बताये, चलिये पहले ये दिखाते है के किस किस तरह मैने हंसा...









via GIPHY




via GIPHY





via GIPHY

via GIPHY







तो बात है कुछ दिन पहले कि, अचानक युटिउब मे एक विडिओ का सजेसन दिखा(पहली बार था), तोह मैने सोचा चलो खोल के देखते है, वैसे पता तोह था के ये जो कोनटेण्त होगा अन्दर वोह मेरे काम का नही फिर भी यूँ ही क्लिक कर दिया और फिर जो देखा पहले तोह मे तंग रह गया और सोचा येह हो किय रहा है, तो उसके उपर छोटा मोटा रिसर्च कर लिया...बाकी वैसे ही जो सजेसनस दे रहा था वोह आट दस  देखा फीर इतनी हंसी आइ के क्या बताये...
तोह साजेसन था... सारी फोटोशुट का विडिओ और हंसी इस लिए आइ के दस मे से आट विडिओस मे सारी से ज़्यादा अंग प्रदर्शन ज़्यादा दिखा, मै सोच रहा था देखते देखते ..भाइ, इन लोगोने तोह लिखा है सारी फोटोशुट पर दस मिनिट के विडिओ मे सिर्फ डेर से दो मिनिट तक सारी दिखि बाकी वक़्त तो पेट और उस्का उपर का हिस्सा(ब्लाउज से ढका हुआ) ही दिखा , सारी तोह था ही नही , किया इसे कहते है सारी फोटोशुट !!!!!!
सवाल बस इतना है के जब बदन ही दिखाना है तोह...बडी फोटोशुट या फीर एक्सपोजिंग पफोटोशुट जैसा कुच नाम रख देते कम से कम Title के साथ content तो  match कर जाता .


देखिये बात ये है के... मुझे किसि कि बद्न दिखाने पर कोइ आपत्ति नही ...अपना अपना बदन है ...किसे(किस किस को) दिखायेंगे, किस तरह दिखायेंगे या फिर कितना दिखायेंगे  येह उन लोगो कि निजि मामला है, मुझे इन सब से कोइ मतलब नही, बस इक छोटा-मोटा ब्लोगर होने के तहत इतना जानता हु के Title के साथ् Content Match करना बहुत ज़रुरी है.



और एक मज़ेदार बात बताता हुन...उन विडिओस मे दो चार विडिओस तो ऐसे भी दिखे के जिस्का Title..”Sex appeal” य फिर “Learn Sex Appeal” जैसा कुछ रख देता तो पेरफेक्ट होता...
एक बात तो ज़ाहीर है के ऐसि विडिओस लड़कीओ के लिए नही बनती क्योंकि उन विडिओस को देख के सारी पहनने का तरीका तो आज़माया नही जायेगा( बेडरूम के अन्दर पति के सामने ही मुमकिन है), तोह ऐसे विडिओस बनते क्यु है ...


और सबसे मज़ेदार बात तोह येह है के...कोइ  शिक्षा मुलक विडिओ जैसे...Physics, Psychology,Travel, Spirituality, Interesting Places ऐसे टोपिक कि विडिओस पे Views मुशकिल से चार या पांच हाज़ार पहुंचता है एक महिने मे और इधर ऐसे सारी फोटोशुट् विडिओस के views एक दिन मे एक लाख बीस हाज़ार से ज़्यादा,जब कि Channel एक महिने से ज़्यादा पुरानी भी नही....

आखिरकार मैने युटिउब का सजेसनस् ओफ कर दिया...







No comments:

Post a Comment